अस्पताल से 32 किलोमीटर दूर मंदिर में बैठे-बैठे डॉक्टर ने कर दी हार्ट सर्जरी, जानें कैसे

Please log in or register to like posts.
News
अस्पताल से 32 किलोमीटर दूर मंदिर में बैठे-बैठे डॉक्टर ने कर दी हार्ट सर्जरी, जानें कैसे

अस्पताल से 32 किलोमीटर दूर मंदिर में बैठे-बैठे डॉक्टर ने कर दी हार्ट सर्जरी, जानें कैसे

गुजरात के गांधीनगर स्थित अक्षरधाम, स्वामीनारायण मंदिर में बीते बुधवार वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. तेजस पटेल ने इतिहास रच दिया. पटेल ने ऐपेक्स अस्पताल से 32 किलोमीटर दूर मंदिर के परिसर में बैठकर ही एक महिला की हार्ट सर्जरी कर दी. इस दौरान गुजरात के सीएम विजय रूपाणी भी मंदिर में मौजूद थे. उन्होंने इसकी तस्वीरें शेयर करते हुए इसे राज्य की गौरवपूर्ण उपलब्धि बताया.

#NewsAlert | Ahmedabad docs create historical past with the world’s first tele stenting robotic surgical procedure. Padma Shri awardee Dr Tejas Patel is commanding the surgical procedure 30 km away from the operation theatre | @MeghdootS with extra particulars pic.twitter.com/QWZj8Lkis6
— Information18 (@CNNnews18) December 5, 2018
पर यह मुमकिन कैसे हो सका?टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर अनुसार महिला डॉ. तेजस से 32 किलोमीटर दूर उन्हीं के अस्पताल ऐपेक्स के ऑपरेशन थियेटर में भर्ती थी. विश्व की सबसे पहली ‘इन ह्यूमन टेलिरोबोटिक कोरोनरी प्रक्रिया’ के जरिए इस ऐंजियोप्लास्टी सर्जरी को अंजाम दिया गया. यह सर्जरी इंटरनेट इनेबल रोबोटिक आर्म के जरिए की गई, जिसे डॉ. पटेल मंदिर के परिसर में रिमोट से ऑपरेट कर रहे थे. वहीं ऑपरेशन थियेटर में भी एक डॉक्टरों की टीम मौजूद थी.महिला को हाल ही में हार्ट अटैक आया था जिससे उनकी रक्त नलियां ब्लॉक हो गई थी. रोबोटिक प्रक्रिया के जरिए बुधवार को इन ब्लॉकेज को दूर कर दिया गया.डॉ. पटेल ने बताया कि टेलिरोबोटिक कोरोनरी के जरिए सुदूर इलाकों के मरीजों को एडवांस स्वास्थ्य सुविधाएं मिल सकेंगी. आज हमने 32 किलोमीटर दूर रहकर इस सर्जरी को अंजाम दिया, कल दूसरे शहर, राज्य और देश में भी हम इसे अंजाम दे सकेंगे. पटेल ने अब तक 300 रोबोटिक सर्जरी कर चुके हैं.उन्हें पद्मश्री से भी नवाजा जा चुका है.

https://platform.twitter.com/widgets.js

Reactions

0
0
0
0
0
0
Already reacted for this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *