बहराइच सांसद सावित्री बाई फुले का BJP से इस्तीफा, कहा- पार्टी समाज को बांटना चाहती है

Please log in or register to like posts.
News
बहराइच सांसद सावित्री बाई फुले का BJP से इस्तीफा, कहा- पार्टी समाज को बांटना चाहती है

बहराइच सांसद सावित्री बाई फुले का BJP से इस्तीफा, कहा- पार्टी समाज को बांटना चाहती है

यूपी के बहराइच से BJP सांसद सावित्री बाई फुले ने अपनी ही पार्टी को निशाने पर लेते हुए कहा है कि पार्टी समाज को बांटना चाहती है. इस बयान के साथ ही फुले ने बीजेपी से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने कहा कि बीजेपी या उसके किसी भी संगठन से कोई लेनादेना नहीं है. फुले ने यह भी ऐलान किया कि 23 दिसंबर को वह रमा बाई आंबेडकर मैदान में रैली करेंगी.

Savitribai Phule, BJP MP from Bahraich, Uttar Pradesh resigns from the get together, says ‘BJP is making an attempt to create divisions in society’ pic.twitter.com/tSLivpVevO
— ANI (@ANI) December 6, 2018
फुले को राम से क्या है शिकायत?कुछ दिनों पहले ही भगवान हनुमान की जाति को लेकर एक विवाद शुरू हुआ था. विवाद की शुरुआत करने वाले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ थे.इसके बाद यह विवाद बढ़ता ही चला गया. इसमें बीजेपी की सांसद सावित्री बाई फुले भी कूद पड़ीं. उन्होंने कहा कि हनुमान दलित थे और मनुवादियों के गुलाम थे.अगर लोग कहते हैं कि भगवान राम हैं और उनका बेड़ा पार कराने का काम हनुमान जी ने किया था. उनमें अगर शक्ति थी तो जिन लोगों ने उनका बेड़ा पार कराने का काम किया, उन्हें बंदर क्यों बना दिया? उनको तो इंसान बनाना चाहिए था लेकिन इंसान ना बनाकर उन्हें बंदर बना दिया गया. उनको पूंछ लगा दी गई, उनके मुंह पर कालिख पोत दी गई. चूंकि वो दलित थे इसलिए उस समय भी उनका अपमान किया गया.’उन्होंने कहा, ‘हम तो यह देखते हैं कि अब देश तो ना भगवान के नाम पर चलेगा और न ही मंदिर के नाम पर. अब देश चलेगा तो भारतीय संविधान के नाम पर. हमारे देश का संविधान धर्मनिरपेक्ष है. उसमें सभी धर्मों की सुरक्षा की गारंटी है. सबको बराबर सम्मान और अधिकार है. किसी को ठेस पहुंचाने का अधिकार भी किसी को नहीं है. इसलिए जो भी जिम्मेदार लोग बात करें भारत के संविधान के तहत करें, गैर-जिम्मेदाराना बात करने से जनता को एक बार सोचने पर मजबूर करता है.’

https://platform.twitter.com/widgets.js

Reactions

0
0
0
0
0
0
Already reacted for this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *