नशे की तरह लोगों को लग रही PUBG गेम की लत, स्कूलों में बच्चों को दी जा रही वॉर्निंग

Please log in or register to like posts.
News
नशे की तरह लोगों को लग रही PUBG गेम की लत, स्कूलों में बच्चों को दी जा रही वॉर्निंग

नशे की तरह लोगों को लग रही PUBG गेम की लत, स्कूलों में बच्चों को दी जा रही वॉर्निंग

भारत में पबजी एक बहुत पॉपुलर गेम है लेकिन युवा पीढ़ी का एक खास हिस्सा इस गेम को कल्पना से परे ले गया है. इस गेम की वजह से गेमिंग कम्यूनिटी में जोश और जुनून देखने को मिल रहा है. इस गेम की थीम पर जयपुर में एक कैफे भी बनाया गया है. भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य भी इस गेम के मुरीद हैं.मंगलवार को गूगल ने अपने उन एप्लीकेशन और गेम की लिस्ट रिलीज की है जो 2018 में बहुत ज्यादा पॉपुलर हुए. इस लिस्ट में सबसे बेस्ट गेम का खिताब पबजी को मिला है. इसे फैन फेवरेट कैटेगरी में रखा गया है. पबजी मोबाइल की पहुंच सितंबर में 100 मिलियन हो गई. इस बात में कोई शक नहीं है कि लोग इस गेम को घंटों खेलते हैं.ये भी पढ़ें: गूगल नें लॉन्च किया फीचर फोन, कीमत जानकर रह जाएंगे दंगडेक्कन हेराल्ड की रिपोर्ट के मुताबिक इस गेम के पीछे युवाओं की दीवनगी को देखते हुए बंगलुरु में स्कूलों ने बच्चों के माता-पिता को हिदायत देते हुए कहा है कि बच्चों को घंटों इस गेम पर समय बिताने से रोकें क्योंकि यह एक एडिक्शन बन चुका है.रिपोर्ट के मुताबिक एसोसिएटिड मेनेजमेंट ऑफ प्राइमरी एण्ड सेकेंडरी प्राइवेट स्कूल कर्नाटक इस मामले में बच्चों के माता-पिता को एडवाइजरी जारी करेगा कि वह इस बात का ध्यान रखें कि बच्चे कितना समय इस तरह के गेम्स को दे रहे हैं.केएएमएस ने कहा, हमने अपने स्कूलों को कहा है कि वह बच्चों के माता-पिता को लेटर लिखें. इससे पहले हम शिक्षा विभाग से इस बारे में बात कर चुके हैं जिससे इस तरह के गेम्स पर बच्चों द्वारा बिताने जाने वाले समय पर पाबंदी लगाई जा सके.’ये भी पढ़ें: सरकार ने इन चीनी एप्स को बताया सबसे खतरनाक, आज ही मोबाइल से हटा देंपबजी को टेनसेंट होल्डिंग लिमिडेट कंपनी ने बनाया है और यह फ्री वैरियंट में खेलने के लिए उपलब्ध है. इसे कंपनी ने मार्च 2018 में रिलीज किया था.

Reactions

0
0
0
0
0
0
Already reacted for this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *