LIVE Assembly Election 2018: Exit Poll का इशारा, हर तरफ है कांटे की टक्कर

Please log in or register to like posts.
News
LIVE Assembly Election 2018: Exit Poll का इशारा, हर तरफ है कांटे की टक्कर

LIVE Assembly Election 2018: Exit Poll का इशारा, हर तरफ है कांटे की टक्कर

इस साल होने वाले पांचों राज्यों के विधानसभा चुनाव अपने अंतिम चरण पर पहुंच गए हैं. राजस्थान की 199 सीटों के लिए और तेलंगाना की 119 सीटों के लिए शुक्रवार को वोटिंग जारी है. इससे पहले मध्यप्रदेश की 230 सीटों के लिए 28 नवंबर को वोटिंग हुई थी जिसमें रिकार्ड 84.19 फीसद की वोटिंग हुई. वहीं मिजोराम की 40 सीटों के लिए भी 28 नवंबर को मतदान हुआ था. यहां करीब 75 फीसदी वोटिंग दर्ज की गई.इससे पहले छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए 12 और 20 नवंबर को दो चरणों में वोटिंग हुई थी. आज यानी 7 दिसंबर को राजस्थान और तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग हो ही है.राजस्थान में जहां मुख्य मुकाबला सत्ताधारी बीजेपी और कांग्रेस के बीच है. वहीं, तेलंगाना में सत्ताधारी तेलंगाना राष्ट्र समति, कांग्रेस-टीडीपी गठबंधन और बीजेपी में त्रिकोणीय मुकाबला है. वोटिंग का आखिरी चरण पूरा होते ही कई सारे एग्जिट पोल जारी किए जाएंगे, जिनसे लोग अंदाजा लगाएंगे कि 11 दिसंबर को आने वाले नतीजों में कौन सी पार्टी अपनी सरकार बना रही है. लेकिन ये एग्जिट पोल होते क्या हैं और चुनावों से पहले क्यों जारी किए जाते हैं, आइए बताते हैं-क्या होते एग्जिट पोल्स ?एग्जिट पोल्स वोट करके पोलिंग बूथ के बाहर आए लोगों से बातचीत या उनके रुझानों पर आधारित हैं. इनके जरिए अनुमान लगाया जाता है कि नतीजों का झुकाव किस ओर है. इसमें बड़े पैमाने पर वोटरों से बात की जाती है. इस कंडक्ट करने का काम आजकल कई आर्गेनाइजेशन कर रहे हैं.
ओपिनियन पोल्स और एग्जिट पोल्स के बीच अंतर क्या है?ओपनियन पोल्स वोटिंग से बहुत पहले वोटरों के व्यवहार और वो क्या कर सकते हैं, ये जानने के लिए होता है. इससे ये बताया जाता है कि इस बार वोटर किस ओर जाने का मन बना रहा है. वहीं एग्जिट पोल्स हमेशा वोटिंग के बाद होता है.

Reactions

0
0
0
0
0
0
Already reacted for this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *