तेजप्रताप यादव ने बेघर महिला को पार्टी ऑफिस में दिया ठिकाना, हो रही तारीफ

Please log in or register to like posts.
News
तेजप्रताप यादव ने बेघर महिला को पार्टी ऑफिस में दिया ठिकाना, हो रही तारीफ

तेजप्रताप यादव ने बेघर महिला को पार्टी ऑफिस में दिया ठिकाना, हो रही तारीफ

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव इन दिनों लगातार पार्टी के दफ्तर में जनता दरबार लगा रहे हैं और लोगों की समस्या को
सुलझाने का प्रयास कर रहे हैं. इस कड़ी में तेजप्रताप यादव के जनता दरबार के 8वें दिन कुछ झुग्गी-झोपड़ी वाले लोग उनके पास फरियाद लेकर आए कि प्रशासन ने उनका आशियाना उजाड़ दिया है. फिर क्या था तेजप्रताप ने अपने अनोखे अंदाज में फरियादियों को पार्टी दफ्तर में ही झोपड़ी डालकर रहने को
कह दिया.तेजप्रताप से अनुमति मिलने के बाद पुष्पा देवी नाम की फरियादी ने कहा कि वह कल ही आकर आरजेडी दफ्तर में झोपड़ी डालेंगी. जब इस बाबत तेज प्रताप से पूछा गया कि आपने महिला को पार्टी दफ्तर में झोपड़ी डालने की अनुमति दी है तो तेजप्रताप ने कहा कि जब सरकार इन लोगों को आसरा नहीं दे पा रही है तो हमें ही देना पड़ेगा.तेज़प्रताप ने कहा कि ये निकम्मी सरकार सोयी हुई है, बार-बार जगाने पर भी नहीं जाग रही, लग रहा है बड़ा बम फोड़ने पर ही जागेगी सरकार. तेजप्रताप
से जब ये पूछा गया कि आखिर इस तरह से पार्टी दफ्तर में कितने लोगों को आसरा दे पाएंगे, जिसके जवाब में तेज प्रताप ने कहा कि ऐसे बहुत सारे लोग
हैं लेकिन कहीं न कहीं तो उनको आसरा देना पड़ेगा न और वैसे भी आरजेडी गरीबों की पार्टी है न कि अमीरों की.तेजप्रताप ने कहा कि ये तो सरकार से पूछा जाना चाहिए कि वह क्या कर रही है. हमारी कोशिश है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों की समस्या का निपटारा किया जा सके. तेजप्रताप ने सवाल किया कि सरकार ने जाम की समस्या से निपटने के लिए अतिक्रमण हटवाया लेकिन क्या जाम से निजात मिल गई? तेज प्रताप ने कहा कि सरकार ऐसे लोगों को हटाने से पहले उनकी दूसरी जगह व्यवस्था करे, अगर कोई हमसे मदद मांगेगा तो क्या हम मना कर दें?(न्यूज18 के लिए अमित कुमार सिंह की रिपोर्ट)ये भी पढ़ें: चंद्रशेखर ने 1991 में राजीव से कहा था कि शादी बेमेल है तो बेहतर है तलाकये भी पढ़ें: पाकिस्तान डायरी: अमेरिकी फौज के जाने के बाद अफगानिस्तान में भारत को मात दे पाएगा पाकिस्तान?

Reactions

0
0
0
0
0
0
Already reacted for this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *