सत्ता से बाहर फेंके जाने पर पाकिस्तान की तारीफ करने लगते हैं कश्मीरी नेता: जीतेंद्र सिंह

Please log in or register to like posts.
News
सत्ता से बाहर फेंके जाने पर पाकिस्तान की तारीफ करने लगते हैं कश्मीरी नेता: जीतेंद्र सिंह

सत्ता से बाहर फेंके जाने पर पाकिस्तान की तारीफ करने लगते हैं कश्मीरी नेता: जीतेंद्र सिंह

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती के बयान पर केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने पलटवार किया है. मुफ्ती पर हमला करते हुए सिंह ने कहा कि यह कश्मीर के नेताओं की फितरत है जो समय के साथ बदलते रहते हैं.उन्होंने कहा, ‘समय वास्तव में बदलता है और कश्मीर-आधारित राजनेता भी समय के साथ बदलते हैं. और मुझे लगता है कि सबसे स्पष्ट बात यह है कि जब वे सत्ता में होते हैं तो भारत की शपथ लेते हैं, लेकिन जब सत्ता से बाहर फेंक दिए जाते हैं तो वे पाकिस्तान की प्रशंसा शुरू कर देते हैं. यह उनकी प्रचलित कला रही है.’

Jitendra Singh, MoS PMO on Mehbooba Mufti:Time certainly adjustments&Kashmir-based politicians additionally change with time&I feel essentially the most evident half is that when in energy they swear by India,when thrown out of energy they begin singing praises of Pakistan.This has been their practised artwork. pic.twitter.com/JHtLApEBpe
— ANI (@ANI) February 10, 2019
महबूबा मुफ्ती ने की पाकिस्तान की तारीफदरअसल जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री ने पाकिस्तानी की तारीफ करते हुए कहा था कि पाकिस्तान में उन्होंने मंदिरों को बचाने के लिए एक एक्ट बनाया है और गुरु नानक जी के नाम पर वह एक वन और विश्वविद्यालय का नाम भी रखना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘यदि आप तुलना करते हैं तो आप महसूस करेंगे कि धर्म के आधार पर गठित पाकिस्तान और धर्मनिरपेक्षता की बुनियाद पर गठित अपने देश में किस तरह का अंतर है.’

Mehbooba Mufti: In Pakistan they shaped an Act to save lots of temples&wish to title a forest reserve&a college after Guru Nanak ji. If you examine you will really feel that there’s some sort of trade b/w our nation shaped on basis of secularism & Pakistan shaped on foundation of faith. https://t.co/mE9mHZ0jvd
— ANI (@ANI) February 10, 2019
इसी के साथ मुफ्ति ने कहा था, ‘भारत में मुस्लिम नामों वाले स्मारकों और पुराने शहरों को हिंदू नाम दिए जा रहे हैं. मंदिर बनाने की भी सबको जल्दी है. गाय के नाम पर मुसलमानों को मारा जा रहा है, कार्रवाई करने के बजाय सरकार उन्हें मध्य प्रदेश की तरह एनएसए के तहत जेलों में डाल देती है. हिंदुत्व के नाम पर राजनीति की जा रही है.’

Reactions

0
0
0
0
0
0
Already reacted for this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *