कलयुग में कामयाबी दिलाता है हनुमानजी का यह चमत्कारी मंत्र, राशि के अनुसार करें जाप

Please log in or register to like posts.
News
कलयुग में कामयाबी दिलाता है हनुमानजी का यह चमत्कारी मंत्र, राशि के अनुसार करें जाप

कलयुग में कामयाबी दिलाता है हनुमानजी का यह चमत्कारी मंत्र, राशि के अनुसार करें जाप


New Delhi: सनातन परंपरा में हनुमत (Lord Hanuman) भक्ति के बारे में मान्यता है कि जो कोई व्यक्ति पूरी श्रद्धा भाव से हनुमत स्तवन करता है, देवाधिदेव श्री बजरंग बली उसे अपनी उपस्थिति का अहसास जरूर कराते हैं।
श्री हनुमानजी की सच्चे मन से साधना-आराधना करने वाले को बड़े से बड़े कष्ट से मुक्ति मिल जाती है। यदि आप राम भक्त और भगवान शिव के 11वें रुद्रावतार का मंत्र अपनी राशि अनुसार जपते हैं तो आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाएंगी और तमाम तरह के ग्रह दोष से मुक्त हो जाएंगे। शनि, राहु-केतु आदि ग्रहों का दुष्प्रभाव आप पर नहीं पड़ेगा।

मेष एवं वृश्चिक
मेष और वृश्चिक राशि के स्वामी मंगल हैं। जीवन को मंगलमय बनाने इस राशि के जातक ‘ॐ अं अंगारकाय नमः’ मंत्र का जाप करें। साथ ही साथ हनुमान जी का दिव्य मंत्र ‘मनोजवं मारुततुल्यवेगं, जितेन्द्रियं बुद्धिमतां वरिष्ठ। वातात्मजं वानरयूथमुख्यं, श्रीरामदूतं शरणं प्रपद्ये॥‘ जप करें। सुख-समृद्धि और सेहत से जुड़ी आपकी मनोकामना अवश्य पूरी होगी।
वृष और तुला
वृष और तुला राशि के स्वामी शुक्र हैं। इस राशि से जुड़े जातकों को मारुतिनंदन का आशीर्वाद पाने के लिए ‘ॐ हं हनुमते नम:।‘ मंत्र का जप करें। श्रद्धापूर्वक इस मंत्र का जप करने से निश्चित रूप से आपकी मनोकामना पूर्ण होगी।
मिथुन और कन्या
मिथुन और कन्या राशि के स्वामी बुध हैं। इस राशि के जातकों को संकटों से मुक्ति और सफलता के लिए हनुमान जी को शीघ्र प्रसन्न करने वाला सुंदरकांड का पाठ करना चाहिए। यदि प्रतिदिन पाठ न संभव हो तो ”अतुलितबलधामं हेमशैलाभदेहं दनुजवनकृशानुं ज्ञानिनामग्रगण्यम्। सकलगुणनिधानं वानराणामधीशं रघुपतिप्रियभक्तं वातजातं नमामि॥” मंत्र का नित्य जाप करें।

कर्क
कर्क राशि के स्वामी चन्द्रमा हैं। इस राशि के जातक को अपने मनोबल में वृद्धि और आत्मविश्वास को कायम रखने के लिए नित्य श्रद्धापूर्वक हनुमान गायत्री मंत्र ‘ॐ अंजनिसुताय विद्महे वायुपुत्राय धीमहि तन्नो मारुति प्रचोदयात्।‘ का जाप करना चाहिए। साथ ही साथ श्री हनुमान जी को सिंदूर का चोला चढ़ाने से भी शुभ फल प्राप्त होंगे।
सिंह
सिंह राशि के स्वामी सूर्य हैं। इस राशि के जातक को ‘ॐ हं हनुमते रुद्रात्मकाय हुं फट।‘ मंत्र का जप करना चाहिए। इस मंत्र का जाप करने से शत्रुओं का नाश और और संकटों से बचाव होता है।
धनु एवं मीन
धनु और मीन राशि के स्वामी गुरु हैं। इस राशि के जातकों को परेशानियों से बचने और कार्य में सिद्धि के लिए के लिए नित्य बजरंगबाण का पाठ करना चाहिए। साथ ही साथ ‘ॐ हं हनुमते नमः।‘ दिव्य मंत्र का जप करें।
मकर और कुंभ
मकर और कुंभ राशि के जातकों के स्वामी शनि महाराज हैं। शनिदेव की कृपा पाने और जीवन में सुख-समृद्धि-सफलता पाने के लिए ‘ॐ नमो हनुमते रूद्रावताराय सर्वशत्रुसंहारणाय सर्वरोग हराय सर्ववशीकरणाय रामदूताय स्वाहा।‘ मंत्र का जप करें।

SachinJournalism is a mission & ardour. Amazed to see how Journalism can empower, change & serve humanity. Latest posts by Sachin (see all)

Reactions

0
0
0
0
0
0
Already reacted for this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *