#MeToo: एमजे अकबर पर लगे आरोपों पर सुषमा के बाद सीतारमण ने भी साधी चुप्पी

Please log in or register to like posts.
News
#MeToo: एमजे अकबर पर लगे यौन शोषण के आरोपों पर सुषमा स्वराज ने साधी चुप्पी

#MeToo: एमजे अकबर पर लगे आरोपों पर सुषमा के बाद सीतारमण ने भी साधी चुप्पी

#MeToo के तहत विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर पर सेक्सुअल हैरेसमेंट के आरोप लगने से सियासी हड़कंप मच गया है. मोदी सरकार के मंत्रियों को इसपर जवाब देते नहीं बन रहा है.बुधवार को रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण से जब इस पर सवाल पूछा गया तो वो इससे बचती नजर आईं. न्यूज़18 ने सीतारमण से एक इंटरव्यू में एमजे अकबर पर लगे आरोपों पर सवाल पूछा तो उन्होंने कहा कि वो इसका जवाब देने के लिए सही व्यक्ति नहीं हैं. निर्मला सीतारमणदेश भर में #MeeToo कैंपेन पर उन्होंने कहा, ‘कई पीड़ित महिलाएं सामने आकर अपने साथ हुई घटनाओं को बयां कर रही हैं. मैं उनकी हिम्मत की सराहना करती हूं. जिन महिलाओं को इससे गुजरना पड़ा हो उनके लिए यह काफी मुश्किलों भरा  दौर रहा होगा.’

#RakshaMantriOnNews18 | I do assist girls who’ve had the braveness to talk out. And for girls who’ve gone by way of this, it will need to have been a lifetime exhausting reminiscence: @nsitharaman tells @shreyadhoundial | #MeToo
Read extra: https://t.co/sKD0v2cAz5 pic.twitter.com/CaPAT5z2wc— Information18 (@CNNnews18) October 10, 2018
इससे पहले मंगलवार को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से कुछ महिला पत्रकारों ने जब इसपर सवाल पूछा तो वो बिना इसका जवाब दिए आगे बढ़ गईं थी. केंद्रीय मंत्री पर आरोप लगने के बाद एक पत्रकार ने सुषमा स्वराज से पूछा, ‘अकबर पर काफी गंभीर आरोप लगे हैं.. उन पर यौन शोषण के आरोप लगे हैं. आप उसी मंत्रालय की महिला मंत्री हैं. आप क्या एक्शन लेंगी?’

Minister of External Affairs Sushma Swaraj dodged questions on sexual harassment allegations towards her ministry colleague MJ Akbar.
Read @ANI story | https://t.co/oRFfzXq1Lk pic.twitter.com/qhLF5rDcbr— ANI Digital (@ani_digital) October 9, 2018
वहीं ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने इसे लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर सीधा-सीधी हमला बोला है. उन्होंने कहा, ‘three महिला पत्रकारों ने दुनिया को मोदी सरकार के एक मंत्री का सही चेहरा दिखाया है. मैं प्रधानमंत्री से मांग करता हूं कि वो आरोपी एमजे अकबर को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त करें.’ओवैसी ने कहा कि अब देखना है कि प्रधानमंत्री इस पर क्या कदम उठाते हैं.

Three journalists have proven to the world the true face of the cupboard minister who heads MEA & these particulars are horrific. I demand that PM ought to instantly sack this minister. We’ll wait and see if PM walks the speak: AIMIM president Asaduddin Owaisi #MJAkbar pic.twitter.com/0wBXQBs1Bq
— ANI (@ANI) October 10, 2018
बता दें कि कई महिला पत्रकारों ने अपनी आपबीती बयां करते हुए एमजे अकबर पर यौन शोषण का आरोप लगाया है. इसमें से एक महिला पत्रकार ने वर्ष 2017 में अपनी आपबीती बयां की थी, महिला के मुताबिक अकबर ने उन्हें होटल के कमरे में नौकरी के इंटरव्यू के लिए बुलाया था. लेकिन उन्होंने उनकी नीयत को भांपते हुए वहां जाना मुनासिब नहीं समझा और इंटरव्यू ऑफर को ठुकरा दिया था.आरोपों में कहा गया है कि एमजे अकबर ने यह काम तब किया जब वो अखबारों के संपादक के रूप में काम कर रहे थे.

Reactions

0
0
0
0
0
0
Already reacted for this post.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *